Sai Nav Graha Shanti Mantra – Hindi Script

© Shirdi Sai Baba Life Teachings and Stories
साईं तुम में सब लोक समाये
सब ग्रह तुम से ही गतियां पाये

सूर्य देव के तेज से मानव
यश प्रताप की दौलत पाये

चन्द्र देवता अति प्रसन्न हों
तन मन को शीतल कर जायें

मंगल भी अमंगल तज कर
मंगल मंगल ही कर जाये

बुद्ध ज्ञान भण्डार बढाए
जब धरती पर प्रकाश फैलाये

बृहस्पति सब सुखों से भर दे
तेरी भस्म जो माथ लगाये

शुक्र अनिष्ट नहीं कर पाये
जब बाबा प्रेम की गंगा बहाये

शनि कभी ना वक्री होये
तेरे चरण आ रक्षण पाये

तेरी एक नजर से बाबा
राहू रफूचक्कर हो जाये

केतु अपने शुभ ग्रह में रह
तेरे जन को लाभ कराये

श्रद्धा रख तेरे दर जो आये
कर्म लेख उनका मिट जाये

बाबा तुम्हरी कृपा दृष्टि से
सब ग्रह सही दिशा पर आये

काहे विधि का लेख डराये
जब करुनासिंधु सब पाप मिटाये

तेरे चमत्कार से देवा
तेरा ‘बंधू’ नवजीवन पाये

वेद, वेदांत, श्रुति समझाये
तेरी महिमा कही ना जाये

Photo Shared by : Sachin Datta

© Shirdi Sai Baba Life Teachings and Stories

Share your love
Default image
Hetal Patil
Articles: 458

10 Comments

  1. sairam,

    I am one devotee of sri sainath sathguru and I
    liked the sai navagraha santhi manthra. Very
    simple and audible it is. Thanks for sending
    it to the devotees. sai nath ki jai.

    JR

  2. Thoda dhyan laga sai dode dode. Aayege
    jai jai sai
    Om sai ram
    Jai sai ram
    Om sai ram
    jai sai ram
    Om sai ram
    Jai sai ram

Leave a Reply